Covid के  बाद बहुत बिज़नेस फेल  हुए और बहुत से लोगो  ने  अपनी नौकरियां गवाईं। बड़ी-बड़ी कंपनियां और बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियां सब बंद हो गई जिसकी वजह से ही काफ़ी लोगो ने अपनी नौकरियां, अपनी रोज़गार से हाथ धोना पड़ा , पर भारत के एक शहर गुरुग्राम में एक कंपनी ने एक ऐसी मिसाल क़ायम की जिसने 1999/ में किया एक ऐसा काम, जिसने लोगो को खुद की दुकान, सामान और ग्राहक दिया।

स्टूडेंट से लेके काम करने वाले लोग और घर सँभालने वाली हाउस वाइफ, सब को इन्होने एक ऐसा मोका दिया जिसने इन्होने इनको ये सिखाया  की अगर आप में कुछ करने की इच्छा हो तो आप भी कर सकते हो । कंपनी इन लोगो को देती है खुद का होलसेल का बिज़नेस कैसे करना है और देश विदेश से आर्डर कैसे आते है और साथ ही माल और दुकान सिर्फ 1999/- , कंपनी से आज 5000 से ज्यादा लोग जुड़े हुए है और सब आज वो सपना पूरा कर रहे है जो उन्होंने देखा था और देख रहे है ।

दुबई से लेके कनाडा तक इस बिज़नेस को बड़े-बड़े उद्योगपतिओं ने इस बिज़नेस की काफी तारीफ की और सूत्रों की मानो तो अब भारत की ये कंपनी उन देशो के उद्योगपतियों के साथ मिल कर भारतीयों को एक नई उड़ान देंगे। URBAZE  का मानना है की एक अच्छे  सुनहरे भविष्य के लिए हर भारतीय को खुद के पैरो पर खड़ा करना जरुरी है और कंपनी का दिन रात एक सपना है की हर भारतीय दुनिया भर में बिज़नेस करे ताकि वो देश और अपने लिए कुछ कर सके।

कंपनी ने उन लोगो को गलत साबित किया की बड़ा बिज़नेस सिर्फ ज्यादा पैसे से चलता है।  Urbaze ये मानती है की अगर मेहनत सही तरीके से करोगे तो फायदा होगा और जब लोगो का फायदा होगा, वो खुश होंगे और इस से urbaze की ग्रोथ होगी। कंपनी इस 1999/-  में देती है एक दुकान,माल और ग्राहक।  लोगो ने शुरू में माना क्या ये संभव है पर कंपनी से जुड़ कर जब लोगो ने पाया की हाँ सिर्फ 1999/- में लोगो ने खुद का अपना काम शुरू करके लाखो कमाए जिस से लोगो के साथ साथ कंपनी का नाम और बिज़नेस ग्रो हुआ।